इस पोस्ट के अंदर हम आपके साथ एक्सरसाइज से रिलेटेड सभी confusion को दूर करने हेतु बहुत से पहलुओं पर बिचार करते हुए प्रयोग, उदाहरण तथा यूज़ को पूर्ण विस्तार के साथ अच्छी तरह आपके समक्ष पेश करेंगे ताकि प्रत्येक बातो को भलीभांति रूप से रीड करके जान सके. आपने इस शब्द को इस्तेमाल के अलावा शारीरिक तौर पर भी यूज़ किया होगा क्योकि एक्सरसाइज शरीर को स्वस्थ्य रखने हेतु बहुत आवश्यक तरीका होता है, तो अब जल्दी से समय ख़राब ना करते हुए आगे बड़ते है.

Exercise Mean in Hindi as well as All Uses :


Exercise Means in Hindi :
  • अभ्यास 
  • शिक्षा 
  • कसरत 

दोस्तों अभी तक तो आपके द्वारा एक्सरसाइज वर्ड के सभी शार्ट मतलवो को अच्छी तरह पढ़कर बेहतर तरीके से कई सारी जगहों पर अपनी जरूरत के अनुसार यूज़ भी जरूर कर ही लिया होगा हो सकता है कुछ लोगो को प्रत्येक शब्दों को अच्छी तरह इसके पीछे की स्टोरी या पहलुओं को समझने में कोई परेशानी हो उदाहरण के लिए किसी को शार्ट मतलवो को जल्दी से याद करके यूज़ करना आसान लेकिन लम्बे समय तक इन पर बने रहने या दिमाग में समरण रखना मुश्किल शावित हो सकता है. इनका कारण हर एक इंसान के कार्य करने का तरीका एकदम भिन्न होना इसकी ओर इशारा करता है.



Details of Exercise in Hindi Tips :


प्रत्येक वर्ड्स को अच्छी तरह विस्तार से समझे -

- कसरत, फ्रेंड्स आपने इसे पर्सनल यूज़ में नहीं भी लिया होगा तो जरूर ही इसके बारे में अनेको बार सूना एवं समझा होगा। कसरत को दूसरे वर्ड में व्यायाम भी कहा जाता है. अपने आस - पास कई सारी व्यायाम शालाये या जिम अवश्य देखे होंगे जिनमे लोग शरीर को स्वस्थ्य एवं मजबूत बनाने हेतु सुबह या शाम पसीना बहाते है.

- अभ्यास, शायद उन लोगो को इस वर्ड के बारे में बतलाने की जरूरत ना पड़े जिन्होंने अपनी जिंदगी में कुछ बढ़िया मुकाम हासिल किये हो क्योकि जब ये व्यक्ति अपनी लाइफ को बदलने हेतु लगातार अपनी चुनिंदा फील्ड के कार्य को बार - बार करते हुए फ़ैल होकर फिर पास हुए. इस प्रक्रिया में उन्हें अभ्यास से गुजरना पड़ा होगा। हमारे आस पास ऐसे अनगिनत examples उपस्थित होगे।

- शिक्षा, अक्सर आपको गणित विषय के अंदर कई बार एक्सरसाइज को सूना होगा क्योकि गणित के प्रश्नो को सॉल्व करने हेतु इसका इस्तेमाल करते देखा गया.

इनके इफ़ेक्ट को अच्छे से रीड करे -

- अभ्यास, देखा जाए तो एक बेहतरीन सक्सेस के लिए लगातार प्रैक्टिस की तो जरूरत पड़ती ही है लेकिन प्रभाव को दोनों दिशाओ में लेकर देखे तो सही सफलता तब ही मिलती है जब कार्य करने की दिशा सही हो अन्यथा परिणाम गलत भी उत्पन्न हो सकते है.

- शिक्षा, इस मीनिंग में कुछ सही तो कुछ गलत चीजे देखने को मिलती है और वो ये कि हमारे आस -पास की लाइफ बहुत तेजी से बदल रही है, यही लोगो की मानसिकता को टेक्नोलॉजी की स्पीड से बदलने हेतु आज की जो शिक्षा प्रणाली है उसमे बहुत सुधार की आवश्यकता महसूस की जाती है क्योकि लगातार प्रत्येक वर्ष वही पुराना विषय पढ़ने के लिए रहते है. जिससे इसके इफ़ेक्ट दोनों स्थिति को दर्शाते है.

क्या मुझे उम्मीद करना चाहिए कि इस पुरे आर्टिकल को लास्ट तक पढ़ने के बाद आपके मन के सभी कांसेप्ट क्लियर हो चुके है ? मेरे खयाल से आप में से बहुतो का जवाब हां होगा। तो फिर जल्दी से अपने अनुभव नीचे कमेंट में लिखे और दुसरो की मदद करने में योगदान प्रदान करे. 
Previous Post Next Post