हम आज के इस पोस्ट के अंतर्गत Portion शब्द को भिन्न पहलुओ के रूपो मे उदाहरण के द्वारा समझने की कोशिश करेंगे। यहाँ हमने जीवन के अनेक हिस्सो, लोगो के भाग्य तथा आपस मे एक दूसरे को चीजे देने की आदतों ऑर कार्यो को एक - एक करके बेहतर रूप मे दर्शाया है। 

अनेक तरह के शॉर्ट तथा विस्तार रूप को आपके सामने प्रकट करते हुये कुछ वर्णन बताए जिन्हे जानते ही आपको काफी मदद मिलेगी। दोस्तो बस आपको इस आर्टिक्ल को आखिर तक अच्छी तरह से पढ़ लेना होगा। चलिये जल्दी से आगे बड़कर प्रत्येक पॉइंट को करीब से समझ लेते है। 

Portion Means in Hindi with All Explain :


Portion Means in Hindi :

हिस्सा, 
भाग्य, 
देना, 

मुझे आशा है कि अब तक प्रत्येक छोटे मीनिंग को याद करके अपनी जरूरत के अनुसार बहुत से स्थान पर उपयोग कर लिया होगा। देखा जाये तो प्रत्येक के कार्य करने के तरीके भिन्न होते है जिसके चलते वे इन शॉर्ट अर्थ को कुछ समय या ज्यादा समय तक अपने दिमाग मे रखकर उपयोग करते है। 

हालाकि इनमे कुछ हद तक भिन्नता देखी जाती है जो इन छोटे मीनिंग के पीछे स्थित किसी भी तरह की कहानी का जुड़ाव नही होता है। जो आप मे से काफी लोगो को समय के साथ परेशानी मे डाल देता होगा। आपकी इन सभी तरह की परेशानी को सुलझाने के लिए इतना बड़ा पोस्ट हमने लिखा जो आपके लिए बहुत मददगार होगा। चलिये शुरू करते है। 
 

What is the Means of Portion Means in Hindi with Example : 


प्रत्येक अर्थ को अच्छे से समझे - 

- हिस्सा, दोस्तो हम सभी एक समाज मे अपने परिवार के साथ रहते हुये जीवन जीते है। यहाँ कुछ परिवार बड़े या छोटे है जीनमे एक से अधिक सदस्य होते है, इस कारण संपत्ति को आपस मे बराबर हिस्सो के रूप मे बाटकर लिया जाता है क्योकि प्रत्येक का जीवन समय के साथ आगे बड़ता है तब वह अपने तरीके से जीने हेतु कुछ फैसले लेते है जो खुद की अगल संपत्ति चाहने से संबन्धित होता है। ऐसे अनेकों उदाहरण चारो तरफ देखने के साथ खबरों मे बड़े लोगो के बारे मे भी ऐसी घटनाए जानने को मिलती ही होगी। 

- भाग्य, दोस्तो ऐसा माना जाता है कि सभी की किस्मत पैदा होते से ही लिखी जा चुकी है लेकिन यह पूरी तरह सही नही है क्योकि इसका बहुत भाग हमारे हाथो मे भी होता है। इंसान अपनी चाहत ऑर काम से अपने जीवन ऑर किस्मत दोनों मे अपने अनुसार परिवर्तन ला सकता है। कुछ लोग उदाहरण के लिए बड़े काम करते हुये मिल ही जाते है ऑर कुछ को हम रोज न्यूज़ या टीवी पर देखते ही है। ये सफल लोग बाहरी देश तथा समाज के लोगो को उम्मीद देते है कि जीवन मे कुछ भी हासिल किया जा सकता है। इनके विपरीत कुछ लोग बैठकर केवल भाग्य को लगातार कोसते रहते है। 

- देना, इस अर्थ को हम परोपकार की भावना के साथ देख सकते है जिसके चलते व्यक्ति ज्ञान, दान, धर्म आदि को लेकर दूसरों के जीवन को सरल बनाने की कोशिश मे लगे रहते है। चारो ओर अनेक लोग जिनके पास जरूरत से ज्यादा है वे धन ऑर भोजन के द्वारा पुण्य पाते है। हालाकि समाज मे भिन्न तरह के लोग मौजूद है जीनमे कुछ केवल लेने का काम करते तो कुछ दूसरों को फायदा देने हेतु कार्य मे लगे होते है। समाज के लिए बेहतर करने बाले लोग समाजसेवी कहलाते है। ऐसे लोग देश ऑर समाज मे प्रगति के लिए हमेशा काम करते है। 

सभी अर्थ को प्रभाव के साथ जाने - 

- देना, यह एक तरह का पुण्य कहाँ जा सकता है लेकिन कुछ मामलो मे यह बिना किसी स्वार्थ या इसके साथ किया जाता है। जब एक व्यक्ति किसी सामने बाले व्यक्ति से कुछ पाना चाहता है तव वह देना भी पसंद करता है याने इसे हम स्वार्थ के अंतर्गत देख सकते है। दूसरी ओर बिना किसी कारण या पाने की इच्छा के बिना ही दूसरों की भलाई के बारे मे सोचना भी इसमे शामिल हो सकता है। चलिये आगे कुछ उपयोगी पॉइंट को समझ लेते है। 

सभी अर्थ के उपयोग समझे - 

- हिस्सा, यह अक्सर परिवार मे देखने मे आता है। 

- भाग्य, यह जीवन के कुछ भिन्न पहलुओ को दर्शाता है। 

- देना, दूसरों की मदद हेतु इसे अपनाया जा सकता है। 

मैं उम्मीद करता हूँ कि आपको यहाँ से हर एक बात बहुत ही अच्छे से समझ आने के साथ इन्हे कई स्थान पर उपयोग करके खुद के साथ दोस्तो ने भी अच्छा फायदा उठाया होगा। यदि फायदा मिला तो हमारा उत्साह बड़ाने हेतु नीचे कमेंट करे। चलिये आगे दोस्तो के साथ शेयर करके हमे फॉलो करे। चलो फिर नए पोस्ट के साथ मिलेंगे। 
Previous Post Next Post