इस जानकारी मे अंदर हम शब्दकोश के अर्थ Poem पर अच्छी तरह चर्चा करके छोटे तथा विस्तार रूप को उदाहरण के द्वारा बताने की कोशिश करेंगे। यहाँ हमने कुछ कवि, इंसान द्वारा प्राप्त पदो तथा चारो ओर भिन्न तरह की रचना आदि को एक - एक करके अच्छे से व्यक्त किया है। उम्मीद करते है अंत तक पोस्ट पूरा पढ़ते ही प्रत्येक सवाल के जवाब अच्छे से मिल जाएँगे। चलिये अब जल्दी से आगे बड़ते हुये समझना शुरू करते है। 

Poem Means in Hindi with Some Explain :


Poem Means in Hindi : 

कवि, 
पद, 
रचना, 

प्रत्येक संक्षेप मीनिंग को अच्छी तरह जानने के बाद सरलता से उपयोग तो जरूर ही कर लिया होगा। अक्सर देखने मे आता है कि जितनी आसानी से ये अर्थ दिमाग मे याद हो जाते है उतने ही जल्दी दिमाग अंदर से भूला देता है क्योकि यह फोटो के रूप मे चीजों को याद रखता है। यह पोस्ट इस मामले मे आपको काफी लाभ देने बाला शावित होगा। तो फिर बिना देरी किए जल्दी से आगे बड़ते हुये शुरू करते है। 
 

What is the Definition of Poem in Hindi with Explaination : 


प्रत्येक अर्थ को करीब से जाने - 

- कवि, शायद आपको इस शब्द के बारे मे ज्यादा ना समझाना पड़े क्योकि आप सभी स्कूल जरूर ही गए होंगे ऑर वहाँ हिन्दी विषय के अंतर्गत कवि की कुछ कविताओ का अध्ययन जरूर किया होगा। तब आपने कवि के प्रकार भी जाने होंगे जो भिन्न रूप मे कविताओ के अंदर दिखाई पड़े होंगे। 

इतना ही नही बल्कि परीक्षा के समय मे जब आप पेपर पढ़ते है तब भी कुछ सवाल कवि के पदो को सुलझाने से संबन्धित देखने को मिलते ही होंगे। इसके अलावा समाज मे कुछ कार्यक्रम समय - समय पर आयोजित किए जाते है जिनमे बाहर से अच्छे कवियो को बुलाकर आपका मनोरंजन भी कराया जाता है। 

- पद, इसे भी आप जानते या करीब से अनुभव कर चूके होंगे। देश की आजादी से बाद से पूरे देश मे अनेक संविधान लागू किए गए इनके अलावा ऊपर से नीचे तक पूरे सिस्टम को सुचारु रूप से चलाने हेतु बहुत से नियम ऑर लोगो को नौकरी पर रखा गया जिसके चलते भिन्न पद बनाए। 

इन पदो को कोई भी स्टूडेंट तैयारी करके परीक्षा पास करके आसानी से प्राप्त कर सकता है। प्रत्येक पद की ताकत ऑर मिलने बाले पैसे का स्तर भिन्न होता है। हमारे चारो ओर अनेक स्टूडेंट हर साल लगातार इन परीक्षा की तैयारी करके पदो को पाते है। 

- रचना, इसे पढ़ते ही हमे किसी लड़की के नाम से संबन्धित लगता है हालाकि इसे नाम के रूप मे भी इस्तेमाल करते है। एक ओर इसे नाम से समझते है तो दूसरी ओर इसे कवि या लेखक की रचना के अंतर्गत लेकर भी समझते है। यह भिन्न रूप मे समय तथा स्थिति के अनुसार देखने मे आती है। कहाँ जाता है कि लेखक के द्वारा लिखी पंक्ति उस स्थिति मे ज्यादा प्रभावी होती है जब मनुष्य अपने जीवन मे वैसा अनुभव कर रहा है। दूसरी ओर मूर्तिकार के द्वारा बनाई मूर्ति भी एक रचना ही होती है। 

प्रभाव पर एक नजर डालते है - 
  
- पद, दोस्तो हमने इस शब्द को लेकर ब्लॉग मे बहुत से आर्टिक्ल मे इस पर चर्चा कर चूके है, चलिये अब कुछ प्रभाव की नजर से भी देख लेते है। देखिये सरकारी तथा निजी क्षेत्र मे भिन्न पद मौजूद है जो किसी भी छोटी से लगाकर बड़ी कंपनी तक सब मे देखने को मिलते है। 

कुछ स्टूडेंट मेहनत से इन पदो को प्राप्त कर लेते है यदि वे इसकी ताकत का समाज हे हित मे उपयोग करे तब तो अच्छे परिणाम देश की प्रगति करेंगे। लेकिन जब ये विपरीत स्थिति के अंतर्गत इनका अपने निजी फायदे के लिए गलत इस्तेमाल करने लगे तब परिणाम समाज की गति को रोककर गलत दिशा मे ले जाएँगे। ऐसे काफी उदाहरण आप खबरों या आस - पास देख ही लेते होंगे। 

उपयोग को एक - एक करके समझे - 

- कवि, एक व्यक्ति जो कविता लिखता या पढ़ता है। 

- पद, बड़े स्तर के कामो को सुचारु रूप मे चलाने हेतु इसे समझते है। 

- रचना, यह लेखक की रचना या नाम से जुड़ा पहलू होता है। 

मैं आशा करता हूँ कि आपको इस जानकारी से अपने सभी कान्सैप्ट ठीक करने का मौका मिला होगा। यदि थोड़ा भी फायदा आपको या दोस्तो को मिला तो बिना कमेंट किए ना जाये। जल्दी से अपने विचार लिखे जो हमे उत्साह दे सके। फटाफट जुड़ जाये साथ ही फॉलो करके आने बाले पोस्ट का इंतजार करे। 
Previous Post Next Post