आज की पोस्ट के माध्यम से हम जानेगे शब्दकोश के वर्ड Paint के सभी शॉर्ट तथा विस्तार रूपो के बारे मे। जिसके अंतर्गत हम कुछ उदाहरणो के द्वारा आप तक कुछ ऐसी बाते पहुंचाने बाले है जिन्हे जानने के लिए आप यह आर्टिक्ल पढ़ रहे है। 

इसमे कई जगह किए जाने बाले लेप, लोगो के एक - दूसरे के प्रति दिखावे के चलते झूठापन तथा प्रक्रति के बीच के भिन्न रंगो को दर्शाया है। ये बाते आपको काफी फायदा देने बाली शावित होगी जिनका उपयोग आप कही भी कर सकते है। अब फटाफट समय ना जाया करते हुये जल्दी से आगे बड़ते है। 

Paint Meaning in Hindi with All Details :


Paint Meaning in Hindi : 

लेप, 
झूठापन, 
रंग, 

दोस्तो आपके द्वारा ऊपर से बताए गए छोटे अर्थो को बहुत ही अच्छे से याद कर लिया गया होगा। अक्सर कुछ लोगो कहते है कि ये शॉर्ट मीनिंग जीतने सरलता से याद हो जाते है इन्हे भूलना भी उतना सरल होता है क्योकि ये केवल एक मीनिंग के रूप मे बताए गए ऑर इनके पीछे किसी तरह के संबंध जोड़कर नही देखे जा सकते है। हमारे द्वारा यह इतना जानकारी से भरा पोस्ट लिखने का उद्देश्य केवल आपको इस समस्या से बाहर निकालना है। तो अब किस बात का इंतजार चलिये शुरू करे। एक बार अंत तक जरूर पढ़े। 
 

What is the Details of Paint in Hindi and Examples : 


सभी मतलवों के सम्पूर्ण रूप को शानदार तरीके से जाने - 

- लेप, दोस्तो यदि आपने कोई पुरानी कथाये या कहानी सुनी या फिर देखी है तो उसमे कुछ इस तरह के पल देखे हो जिसमे किसी व्यक्ति को शरीर पर चोट लग जाने पर जड़ीबूटीओ का लेप लगाया जाता है। इसके अलावा अधिकतर महिलाए अपने चहरे को खूबसूरत बनाने के लिए कई पदार्थो का लेप लगती है जीनमे कुछ घरेलू होते है ऑर कुछ बाज़ार से लिए जाते है। इस लेप से शरीर की ऊपरी सतह को पोशाक मिलता है जिससे इसमे सुधार होने लगता है। ऐसे अनगिनत उदाहरण अपने परिवार या पड़ोस मे जरूर ही देख लेते होंगे। 

- झूठापन, मेरे खयाल से इस पर चर्चा करने की भी जरूरत नही होगी क्योकि आप इस अर्थ से काफी हद तक वाखिफ होंगे ही। देखा जाये तो यह स्थिति हर किसी की जिंदगी मे कभी ना कभी जरूर ही बनती है ऑर आप इससे बिल्कुल भी जुदा नही है। 

उदाहरण से जाने तब एक व्यक्ति द्वारा दूसरे को किसी बात की गलत जानकारी देना या असली बात छुपाकर कोई ओर ही बात बता देना। आप परिवार के साथ समाज ऑर देश के स्तर पर रोज अपने घर न्यूज़ पेपर मे जरूर ही पढ़ते होंगे। नीचे कुछ प्रभाव के पॉइंट दिये है जरूर जाने। 

- रंग, दोस्तो हम सभी इस धरती पर मनुष्य के रूप मे पैदा हुये ऑर इस प्रक्रति से हमे अनेकों रंग मिले जिससे चारो ओर सभी वस्तुए ऑर भी खूबसूरत दिखाई पड़ती है। देखा जाये तो चारो प्रक्रति मे जो उपस्थित है वो सव हमारे लिए बना है। बाहरी वातावरण मे हवा, जल, पेड़, फल, फसले आदि सब कुछ इसी के अंतर्गत आते है जो केवल हमारी जरूरत को ध्यान रखकर प्रक्रति उत्पन्न करती है। आप कही घूमने गए हो तब इसकी खूबशूरती को अवश्य महसूस किया होगा। आगे प्रभाव को देखे। 

सभी पहलू के प्रभावों को एक - एक करके जानिए - 

- लेप, हमने ऊपर पॉइंट बताकर कुछ चीजे समझा दी है। अब इनके प्रभाव मानव शरीर ऑर सामाजिक तौर पर कैसे पड़ते है थोड़ा समझ लेते है। जब कोई इंसान घायल हो जाता या फिर शरीर पर किसी कारणवश चोट आ जाती है तब पुराने समय के लोग जड़ीवूटीयों का लेप लगा देते थे। 

इनमे या तो फायदा होता था या फिर कोई दूसरा नुकसान शरीर पर देखने मे नही आता था लेकिन आज जो दवाइयाँ बाज़ार मे मिलती है वो शरीर के एक हिस्से को तो ठीक करती है परंतु दूसरी समस्या भी उत्पन्न कभी - कभी कर देती है। कहने का मतलव सभी का अपना महत्व ऑर नुकसान देख सकते है। 

- झूठापन, समाज मे कई लोग इस झूठेपन का सहारा लेकर वाकि लोगो से अपने मतलव का काम करा लेते है। ऐसे लोग सामने जो दिखते है वैसे वास्तव मे नही होते केवल एक तरह का बाहरी दिखावा करते है, इनके दिमाग मे कुछ चलता है ऑर बाहर कुछ कहते है। इसी कारण ये वाकि लोगो को अपनी ओर आकर्षित आसानी से कर पाते है। आप भारतीय समाज या दुनिया के किसी भी हिस्से के कुछ लोगो मे इस तरह की बाते अनुभव अवश्य कर सकते है। आगे उपयोगी बिन्दुओ को भी जाने। 

- रंग, आप सभी अच्छे से समझते होंगे कि हमारी जिंदगी मे प्रत्येक रंगो का क्या महत्व है। इन रंगो के कारण ही हम सभी चीजों की वास्तविकता के साथ उनकी सुंदरता को समझ पाते है। रंग अनेकों तरह के बन सकते है क्योकि इनमे बस थोड़ा परिवर्तन करना पड़ता है। आपने रंगो के साथ होली तो जरूर ही बनाई होगी ऑर दिवाली भी भारत मे रंग भरे खुशी के त्यौहार के रूप मे मनाते है। ऐसी अनेकों चीजों से जुड़े रंगो को आप रोज़मर्रा की लाइफ मे अनुभव भी करते ही होंगे। 

प्रत्येक के उपयोग को पढ़े -

- लेप, यह शरीर या किसी स्थान पर जरूरतों के हिसाब से करते है। 

- झूठापन, यह एक व्यक्ति के द्वारा दूसरे किसी से सच छुपाने की स्थिति को लेकर जान सकते है। 

- रंग, यह अनेकों तरह के वस्तुओ की उपस्थिती को बताने हेतु देखे जाते है। 

मैं आशा करता हूँ आपको यहाँ इस पोस्ट से बहुत कुछ जानने को मिला होगा। यदि हमारी इस कथा को पूरा रीड करते ही मदद मिली तो जल्दी से नीचे कमेंट करके हमे अपने अनुभव बताए। अब जल्दी से दोस्तो को अपने साथ लेकर हमे फॉलो करे ऑर आगे नयी पोस्ट का इंतजार करे। चलिये फिर आगे मिलते है। 
Previous Post Next Post