दोस्तो आज का जो शब्द है वो जुड़ाव ऑर सामाजिक तौर पर सबसे अधिक देखा जाता है। यह प्रचलित शब्द Our है जो कि शब्दकोश से लिया गया है। हम आशा करते है आप इस मीनिंग को समझने हेतु इस आर्टिक्ल को आखिर तक जरूर ही पढ़ोगे। 

आपको ज्यादा ऑर अच्छी तरह समझने हेतु हमने यह पोस्ट मे उदाहरण के साथ छोटे ऑर विस्तार वर्णन को एक - एक करके आप तक पहुंचाया जिससे आपको काफी मदद मिल जाएगी ऑर इन्हे जानने के बाद खुद को वकी लोगो से जानकारी के मामले मे आगे रखोगे। यह एक सामाजिक अर्थ है जो कुछ हित के साथ हमे बताता है। चलिये ज्यादा समय खराब ना करके आगे पढ़ना शुरू करते है। 

Our Meaning in Hindi with All Details :


Our Meaning in Hindi :

हमारा, 
अपना, 
हित, 

हमारे द्वारा ऊपर बताए प्रत्येक छोटे अर्थो को सरलता से याद करके अपने दिमाग मे बैठा लिया होगा ताकि आगे किसी स्थान पर फटाफट याद करके इस्तेमाल कर पाये। आप लोगो के द्वारा जब इन अर्थो को उपयोग कही भी किया जाता होगा तब कुछ परेशानी जो कि इन्हे भूलने की सामने आ रही होगी। 

आखिर ये संक्षेप मतलव के रूप मे होने से अधिकतर लोगो को सहना पड़ रही होगी। हमारे द्वारा आपकी इन परेशानी को कुछ हद तक ठीक करने हेतु यह आर्टिक्ल लिखा जिसमे हमारे द्वारा इस पर गहन अध्ययन करके सब कुछ समझाने की कोशिश की गयी। तो अब देर किस बात की आगे पढ़ना जारी रखते है। 


Full Details of Our in Hindi with Simple Examples : 


नीचे दर्शाये हिन्दी मीनिंग के प्रत्येक पहलू को रीड करे -

- हमारा, दोस्तो आप सभी इस वर्ड का इस्तेमाल करने के अलावा बाहर बहुतों को देखा होगा। इसमे व्यक्ति खुद के साथ अपने से जुड़े व्यक्ति को भी लेकर बात को व्यक्त करता है। यह मतलव अधिकतर समाज मे पारिवारिक तौर पर एक - दूसरे के साथ इस्तेमाल करते है। 

हालाकि हमारा भारत देश आध्यात्म ऑर संस्कारो को मानने बाला है जिसके कारण यहाँ आपस मे दो या दो से अधिक लोगो के बीच जुड़ाव ऑर लगाव लंबे समय तक या अधिकतर दो व्यक्ति पूरी जिंदगी एक साथ गुजार देते है। ऐसे अनगिनत उदाहरण हमारे भारतीय समाज मे अक्सर देखे जा सकते है। 

- अपना, अधिकतर आप सभी के द्वारा इसे अनेकों बार अपनी चीजों, कार्य या घर के सदस्यो को लेकर उपयोग मे लिया होगा। यह अर्थ हमे सबसे करीबी चीजों की ओर इशारा करते हुये इनके पहलुओ को उजागर करती है। उदाहरण  के लिए घर मे अपने माता - पिता, भाई - बहन, बच्चा या वाकि परिवार के सदस्यो के लिए यह अर्थ कई मामलो मे सामने लाकर देखा जात है। 

दोस्तो आज के जुड़ावों को देखे तो इनमे काफी परिवर्तन आ गया है आज समय बदल गया जिससे लोगो की जीवन शैली बदली साथ ही मानसिक विचार बदलने से आपस के रिस्तों मे उतार - चढ़ाव देखने को मिलता है। ऐसे अनेकों उदाहरण आप खबरों मे सुनते या पढ़ते जरूर ही होंगे। 

- हित, यह अर्थ सामान्य रूप से आपकी जिंदगी मे कुछ भूमिका निभाता है। भारत मे अनेकों परिवार साथ मे रहते है जिनका कुछ हक एक - दूसरे के ऊपर होने के अलावा संपत्ति पर भी रहता है। परिवार मे कुछ लोग अच्छे होंगे जो सबको लेकर चल रहे होंगे ऑर कुछ केवल अपने स्वार्थ के चलते हित को साधने मे लगे रहते है चाहे फिर वाकि का कुछ भी होता रहे। पहले के समय मे सभी एक - दूसरे के साथ प्यार मे रहकर पूरा जीवन व्यतीत कर देते थे लेकिन आज सहन शक्ति कम होने से लोगो के बीच जुड़ाव ही नही बन पाता है। 

सभी प्रभाव को बेहतर रूपो मे शेयर किया है - 

- हमारा, इस शब्द के अधिकतर पहलू को ऊपर बता चूके है लेकिन अब कुछ सांसरिक स्थिति को ध्यान रखते हुये प्रभाव पर चर्चा को समझाएँगे। उदाहरण के तौर पर किसी स्थान या परिवार मे यह कहते सुना होगा कि हमारा घर, काम, दोस्त या संपत्ति आदि ये सब हमारे है। आज के टाइम मे लोगो का ध्यान इन सब पर अधिक होता है जो आपस के जुड़ाव को कम करता हुआ संबंधो मे दरारे पैदा करके स्वार्थ को दर्शाता है। 

जब आदमी जीवन को पूरा जीते हुये आगे बड़ता जाता है तब अनेकों तरह की स्थिति उसके चारो ओर आती है। ये अच्छे ऑर विपरीत रूपो के साथ भी सामने प्रकट हो सकती है। बस आपको रास्ते खोजते रहना होगा इनसे बाहर निकालने के लिए। 

- अपना, आप बहुत करीब से इसे समझते या अनुभव पहले कर चूके हो लेकिन आगे थोड़े प्रभाव पर चर्चा को आपके सामने लेकर आए है। जैसे आप सभी छोटे या बड़े परिवार मे रहते होंगे जहां एक - दूसरे से जुड़ाव के बीच माता - पिता के द्वारा अपने बच्चो को अपना कहाँ जाता है जो कि सही भी है। 

इनके अच्छे प्रभाव मे बच्चा बड़ा होकर माता - पिता की आखिरी समय मे मदद करते हुये सेवा करता है अब दूसरी ओर बुरे प्रभाव मे देखते है कि बच्चा बड़ा होकर माता - पिता कि सेवा करने सेवा करने से मना करता है ऑर उन्हे आश्रम छोड़ आता है जो कि उनके जीवन का सबसे बुरा समय हो सकता है। 

- हित, यह स्वार्थ कि ओर इशारा करते हुये बताता है जिसमे वाकि परिवार के लोगो द्वारा एक - दूसरे से किसी स्वार्थ के चलते जुड़े रहते है। जो कि समाज मे किसी भी दर्जे के हो सकते है याने वे परिवार गरीब या अमीर की श्रेणी मे हो सकते है। 

देखा जाये तो इंसान होने के नाते उसे अपने हक के साथ सभी चीजों की चाहत को पूरा करने का अधिकार होता है लेकिन इसका सकारात्मक असर तभी माना जा सकता है जब अपनी चाहतों को पूरा करने मे वाकि किसी का बुरा ना हो। विपरीत प्रभाव तब सामने आता है तब कोई केवल अपने बारे मे सोचकर दूसरों के बुरे के लिए जिम्मेदार होता है। 

नीचे उपयोग को अच्छे से जाने - 

- हमारा, यह दो या दो से अधिक लोगो का किसी एक या अधिक वस्तु पर अधिकार को दर्शाता है। 

- अपना, अपने परिवार मे सबसे करीबी लोगो को इसके अंतर्गत लेकर समझ सकते है। 

- हित, यह अपने स्वार्थ को साधने की ओर इशारा करता नजर आता है। 

मुझे पूर्ण आशा है कि आपको इस जानकारी से वे समस्त लाभ मिल चूके होंगे जिसके लिए इतना समय देकर यह आर्टिक्ल आखिर तक पढ़ा। इसके लिए तहे दिल से आपका धन्यवाद। यदि यहाँ से कुछ ऐसा लाभ मिला जो वाकि कही नही मिल सकता तो जल्दी कमेंट करके हमारे उत्साह को आसमान की ऊंचाई तक पहुंचाए। आगे ऐसे ही आर्टिक्ल चाहिए तो दोस्तो के साथ शेयर करके हमेशा के लिए फॉलो करे ताकि लगातार भरपूर जानकारी आप तक फटाफट जाती रहे। चलिये अब फिर मिलेंगे।  
Previous Post Next Post